Surya grah kamjor hone ke upay know tips to strong sun planet | कुंडली में कमजोर सूर्य हो सकता है आपकी नौकरी के लिए खतरा, इन उपायों से टलेगी बला

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार अगर आपकी कुंडली में सूर्य कमजोर है तो व्यक्ति को जीवन में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। कमजोर सूर्य आपके मार्ग को और चुनौतीपूर्ण बना देता है। ऐसे में अगर आप इसके प्रकोप से बचना चाहते हैं तो इन उपायों को जरूर करें।

कुंडली में कमजोर सूर्य बन सकता है आपकी नौकरी के लिए खतरा, इन उपायों से दूर होगी समस्या

कमजोर सूर्य के प्रभाव से बचने के उपाय

छवि क्रेडिट स्रोत: pixabay.com

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सूर्य देव को सभी ग्रहों का राजा माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि जब किसी व्यक्ति के ग्रह और नक्षत्र अनुकूल स्थिति में होते हैं, तो व्यक्ति को सुख-समृद्धि का लाभ मिलता है, वहीं दूसरी ओर यदि ये ग्रह अनुकूल हो जाते हैं, तो बहुत सारी बाधाएं पैदा करते हैं। सूर्य ग्रह यश, बल, गौरव और सम्मान का प्रतीक है। यदि आपकी कुंडली में सूर्य ग्रह का प्रभाव कम हो जाता है तो व्यक्ति का मार्ग कठिनाइयों से भरा हो जाता है। रविवार का दिन भगवान सूर्य को समर्पित है। इस दिन व्रत रखने और उनकी पूजा करने से वह प्रसन्न होते हैं। आइए जानते हैं सूर्य देव को प्रसन्न करने के उपाय क्या हैं।

  1. प्रतिदिन सुबह जल्दी उठकर सूर्य देव को अर्घ्य दें।
  2. अगर किसी कारण से आप सुबह नहीं उठ पा रहे हैं तो दोपहर से पहले तांबे के पात्र में रोली डालकर सूर्य देव को अर्घ्य दें। इससे आपकी सभी परेशानियां धीरे-धीरे खत्म हो जाएंगी।
  3. माना जाता है कि जब आपकी कुंडली में सूर्य ग्रह कमजोर हो तो नमक का सेवन कम कर देना चाहिए।
  4. हाथों में तांबे की चूड़ी पहनने से भी सूर्य के बुरे प्रभाव से मुक्ति मिलती है।
  5. यदि आप सूर्य की कृपा पाना चाहते हैं तो अपने पिता का सम्मान करें।
  6. स्नान और ध्यान करने के बाद इन मंत्रों का जाप करें। ॐ ह्रीं ह्रीं ह्रीं सः सूर्याय नमः। ॐ घृणिः सूर्याआदिव्योम। शत्रु नाश ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय नम:।
  7. सूर्य ग्रह को शांत रखने के लिए माणिक्य रत्न धारण करना शुभ माना जाता है।
  8. हो सके तो रविवार का व्रत रखें। ऐसा करने से सूर्य ग्रह शांत रहते हैं और उनकी कृपा बनी रहती है।

कैसे पता करें कि सूर्य कमजोर है

यदि आपके जीवन में सूर्य कमजोर है तो आपको अपने पिता और गुरुजनों का साथ नहीं मिल पाएगा। आप अकारण ही क्रोधित रहेंगे और अहंकारी महसूस करेंगे। आप हर समय कमजोरी महसूस करेंगे और कोई भी काम करना मुश्किल होगा। आपके परिवार में संपत्ति संबंधी विवाद हो सकता है।

(यहां दी गई जानकारी धार्मिक मान्यताओं और लोक मान्यताओं पर आधारित है, इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। इसे आम जनहित को ध्यान में रखते हुए यहां प्रस्तुत किया गया है।)

Leave a Reply

error: Content is protected !!