Breaking News

Safala Ekadashi 2022 vrat kaise kare Puja vidhi niyam in Hindi | Safala Ekadashi 2022: सफला एकादशी व्रत का पूरा फल पाना चाहते हैं तो आज भूलकर न करें ये काम

आज साल की आखिरी एकादशी का व्रत रखा जाएगा. यदि आप सभी कार्यों को सफल बनाने वाले सफला एकादशी व्रत का पूर्ण फल प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको इस लेख में दिए गए सभी नियमों का पूर्ण रूप से पालन करना चाहिए।

Safala Ekadashi 2022: सफला एकादशी व्रत का पूर्ण फल पाना चाहते हैं तो आज ही भूलकर भी न करें ये काम

सफला एकादशी व्रत के नियम

सफला एकादशी व्रत नियम: सनातन परंपरा में भगवान श्री विष्णु की कृपा बरसाने वाले एकादशी व्रत का काफी धार्मिक महत्व है। यह व्रत हर महीने के कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष में आता है और हर एकादशी का अपना महत्व और शुभ फल होता है। आज श्री हरि की कृपा से सफला एकादशी का व्रत होगा जिससे आपके सभी कार्य सफल होंगे। जिसका पूर्ण फल पाने के लिए आपको इस व्रत की पूजा विधि, शुभ मुहूर्त और नियमों को जरूर जानना चाहिए। चलो सफल हो एकादशी व्रत आइए जानते हैं पूजा को सफल बनाने वाले सभी जरूरी नियमों के बारे में विस्तार से।

सफला एकादशी व्रत के महत्वपूर्ण नियम

  1. यदि आप भगवान श्री विष्णु की कृपा चाहते हैं और उनके व्रत को सफल बनाना चाहते हैं तो इस व्रत और इसके लिए की जाने वाली पूजा को हमेशा शुभ मुहूर्त में ही करें। हिंदू कैलेंडर के
  2. इसके अनुसार उदया तिथि के दिन एकादशी होने के कारण यह व्रत 19 दिसंबर को ही रखा जाएगा और कल 20 दिसंबर 2022 को सुबह 08:05 बजे से 09:13 बजे के बीच मनाया जाएगा।
  3. सफला एकादशी व्रत के दिन यदि संभव हो तो गंगा स्नान करें और यदि संभव न हो तो नहाने के पानी में गंगाजल मिलाकर स्नान करें.
  4. सफला एकादशी का व्रत करने वाले व्यक्ति को आज के दिन तन और मन से शुद्ध होकर भगवान श्री विष्णु की पूजा करनी चाहिए.
  5. भगवान श्री विष्णु को गंगाजल अत्यंत प्रिय है इसलिए आज के दिन उनकी पूजा में गंगाजल और भोग लगाते समय विशेष रूप से तुलसी दल का प्रयोग करें।
  6. भगवान श्री विष्णु की पूजा में पीली चीजों जैसे हल्दी, केसर, पीले फूल, पीले फल, पीली मिठाई आदि का अधिक से अधिक प्रयोग करें।
  7. आज के दिन सफला एकादशी व्रत में भगवान श्री विष्णु की पूजा करते समय शंख की पूजा जरूर करें और एकादशी कथा का पाठ करते हुए उसे फूंकें।

सफला एकादशी के व्रत में न करें ये गलतियां

  1. सफला एकादशी व्रत के दिन भूलकर भी किसी भी तरह की तामसिक चीजों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
  2. सफला एकादशी व्रत के दिन चावल नहीं खाना चाहिए।
  3. सफला एकादशी व्रत के दिन पूरी तरह से ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए और किसी के प्रति गलत विचार नहीं लाना चाहिए।
  4. सफला एकादशी का व्रत करने वाले को भूलकर भी दिन में नहीं सोना चाहिए।
  5. सफला एकादशी का व्रत करने वाले को भूलकर भी आज के दिन किसी से लड़ाई-झगड़ा नहीं करना चाहिए।

(यहां दी गई जानकारी धार्मिक मान्यताओं और लोक मान्यताओं पर आधारित है, इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। इसे आम जनहित को ध्यान में रखते हुए यहां प्रस्तुत किया गया है।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!