Margashirsha Aghan Amavasya ke upay puja vidhi in Hindi | Margashirsha Amavasya 2022: आज अमावस्या पर इन उपायों से दूर होंगे सारे दु:ख, पूरी होंगी मनोकामनाएं

अगहन अमावस्या के उपाय: अगहन मास की अमावस्या के दिन भगवान श्री कृष्ण की पूजा को समर्पित, पूजा से जुड़े उपायों के बारे में जानने के लिए इस लेख को जरूर पढ़ें जिससे जीवन से जुड़ी सभी परेशानियां दूर होती हैं और मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

मार्गशीर्ष अमावस्या 2022: आज अमावस्या पर ये उपाय दूर करेंगे सारे दुख और मनोकामना होगी पूरी

अगहन मास के प्रभावशाली उपाय

छवि क्रेडिट स्रोत: TV9

Agahan Amavasya 2022: हिंदू धर्म में मान्यता है कि हर महीने के कृष्ण पक्ष में पड़ने वाली अमावस्या तिथि पितृ पूजा के लिए बहुत ही शुभ और फलदायी होती है। पंचांग के अनुसार अगहन मास की अमावस्या तिथि आज 23 नवंबर 2022 को सुबह 06 बजकर 53 मिनट से शुरू होकर कल 24 नवंबर को सुबह 04 बजकर 26 मिनट तक रहेगी. इस तिथि पर पितरों का पूजन, स्नान और दान करने से ज्योतिषीय उपाय करने से पितृ दोष दूर होता है। यही वजह है कि इस दिन बहुत से लोग पवित्र नदियों में स्नान कर पूजा करते हैं। सनातन परंपरा में अमावस्या तिथि को न केवल धार्मिक दृष्टि से बल्कि ज्योतिषीय दृष्टि से भी महत्वपूर्ण माना जाता है, क्योंकि कालसर्प दोष, शनि दोष आदि। अगहन मास की चंद्र तिथि।

इसे भी पढ़ें



अगहन मास की अमावस्या के अचूक उपाय

  1. अगहन मास की अमावस्या के दिन आटे से बनी मछली के गोले देना शुभ माना जाता है। आप किसी भी नदी या तालाब में जाकर मछलियों को दाना डाल सकते हैं।
  2. आज अगहन मास की अमावस्या के दिन जरूरतमंदों को काला कंघा, जूते, चप्पल आदि दान करने से शनि संबंधी दोष दूर होते हैं।
  3. मार्गशीर्ष मास की अमावस्या के दिन पीपल के वृक्ष की पूजा करने का बहुत महत्व है। मान्यता है कि इस शुभ तिथि पर सुबह पीपल पर जल चढ़ाने और शाम को सरसों के तेल का दीपक जलाने से शुभ फल की प्राप्ति होती है।
  4. इस दौरान घर की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। अगहन मास की अमावस्या के दिन घर में रखी सभी खराब या टूटी-फूटी चीजों को हटा देना चाहिए। घर के हर कोने में एक दीपक भी जलाना चाहिए।
  5. अमावस्या तिथि के दिन दान का बहुत महत्व होता है। मान्यता है कि अगहन मास की अमावस्या को कंबल, चावल, शक्कर आदि का दान करने से जीवन के सारे संकट दूर हो जाते हैं और सुख-सौभाग्य की प्राप्ति होती है।
  6. इस दिन सूर्य को अर्घ्य देना भी बहुत शुभ माना जाता है। अगर आप जीवन में दरिद्रता से घिरे हैं तो आपको रोजाना सुबह सूर्य को जल अर्पित करना चाहिए। जल चढ़ाते समय सूर्य मंत्र का जाप अवश्य करें और कोशिश करें कि जल तांबे के लोटे से ही दें।
  7. मान्यता है कि अगहन का महीना भगवान विष्णु के अवतार श्रीकृष्ण की कृपा बरसाता माना जाता है। ऐसे में उन्हें प्रसन्न करने के लिए ॐ क्लीं कृष्णाय नमः का जाप करें।

(यहां दी गई जानकारी धार्मिक मान्यताओं और लोक मान्यताओं पर आधारित है, इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। इसे आम जनहित को ध्यान में रखते हुए यहां प्रस्तुत किया गया है।)

Leave a Reply

error: Content is protected !!