Margashirsha agahan know how to worship shell during this method and its significance | अगहन मास में कैसे करें शंख की पूजा और क्या हैं इससे जुड़े उपाय

अगहन के महीने में भगवान श्रीकृष्ण के साथ-साथ शंख की भी विशेष पूजा की जाती है। मान्यता है कि मार्गशीर्ष मास में शंख की पूजा करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। आइए जानते हैं इस माह में शंख पूजन से जुड़े विशेष उपायों के बारे में।

अगहन मास में कैसे करें शंख की पूजा और क्या हैं इससे जुड़े उपाय

अगहन मास में शंख पूजन का महत्व

छवि क्रेडिट स्रोत: pexels.com

हिन्दू शास्त्रों के अनुसार मार्गशीर्ष मास की शुरुआत हो चुकी है। जैसे अंग्रेजी कैलेंडर में एक साल में 12 महीने होते हैं, वैसे ही हिंदी कैलेंडर में एक साल में 12 महीने होते हैं। पंचाग के अनुसार प्रत्येक माह को अलग-अलग नामों से जाना जाता है। वर्ष के नौवें महीने को अगहन के नाम से भी जाना जाता है। माना जाता है कि सतयुग की स्थापना मार्गशीर्ष मास में हुई थी। यह मास भगवान श्रीकृष्ण को अत्यंत प्रिय है। इस मास में शंख पूजन का विशेष महत्व बताया गया है। मार्गशीर्ष मास में यदि विधि-विधान से शंख की पूजा की जाए तो इससे भगवान श्रीकृष्ण ही नहीं मां लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं। आइए जानें शंख से जुड़े कुछ असरदार उपाय।

  1. अगर आप मां लक्ष्मी की कृपा पाना चाहते हैं तो मार्गशीर्ष मास में रोजाना शंख की पूजा करें। अपने घर के मंदिर में या जहां भी आपका पूजा स्थल हो वहां शंख की स्थापना करें और विधि-विधान से पूजा करें। मान्यता है कि शंख की पूजा से जीवन में धन-धान्य के साथ-साथ सुख-समृद्धि आती है।
  2. भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए दक्षिणावर्ती शंख में दूध भरकर उससे विष्णु जी का अभिषेक करें। इससे न केवल भगवान विष्णु बल्कि मां लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं।
  3. अगर आपकी कुंडली में दोष है तो मार्गशीर्ष मास में शंख की पूजा करें। खासकर जिस जातक की कुंडली में शुक्र ग्रह कमजोर स्थिति में हो, उसे शंख पूजन अवश्य करना चाहिए। इसके लिए एक सफेद वस्त्र में शंख, चावल और बताशे लपेटकर किसी नदी में प्रवाहित कर दें।
  4. इस महीने में शंख का दान करना बहुत ही लाभकारी सिद्ध हो सकता है। संभव हो तो श्री विष्णु के किसी मंदिर में जाकर शंख का दान करें। इससे आपके सारे दोष दूर हो जाएंगे।
  5. वैसे तो शंख कई प्रकार के होते हैं, लेकिन मार्गशीर्ष मास में मोती शंख का विशेष महत्व होता है। ईख को अपनी अलमारी की तिजोरी में रखें। इसके साथ ही एक कपड़े में हल्दी और कच्चे चावल बांधकर रख दें। इससे आपके घर में बरकत आएगी और आपको धन धान्य का लाभ मिलेगा।

(यहां दी गई जानकारी धार्मिक मान्यताओं और लोक मान्यताओं पर आधारित है, इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। इसे आम जनहित को ध्यान में रखते हुए यहां प्रस्तुत किया गया है।)

Leave a Reply

error: Content is protected !!