Kartika Purnima 2022 par kaise kare Puja ki vidhi upay in Hindi | Kartik Purnima 2022: कार्तिक पूर्णिमा पर आखिर किस उपाय से पूरी होगी आपकी मनोकामना

कार्तिक पूर्णिमा पर दुख और दुर्भाग्य को दूर करने और सुख-सौभाग्य लाने की सरल और प्रभावी पूजा विधि जानने के लिए इस लेख को अवश्य पढ़ें।

कार्तिक पूर्णिमा 2022: कार्तिक पूर्णिमा पर किस उपाय से पूरी होगी आपकी मनोकामना?

कार्तिक पूर्णिमा पूजा के उपाय

छवि क्रेडिट स्रोत: pexels.com

कार्तिक पूर्णिमा पूजा उपाय: हिंदू धर्म में कार्तिक मास की पूर्णिमा का बहुत अधिक धार्मिक महत्व है। दिवाली के ठीक 15 दिन बाद मनाई जाने वाली इस पूर्णिमा को देव दीपावली के नाम से जाना जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चंद्रमा की पन्द्रहवीं अवस्था जिसे पूर्णिमा कहा जाता है, कार्तिक मास में 07 नवंबर 2022 को पड़ेगी। मान्यता है कि कार्तिक मास की पूर्णिमा के दिन इसके देवता चंद्रदेव, भगवान श्री विष्णु और धन की देवी मां लक्ष्मी की विशेष पूजा करने से साधक की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं और उसे जीवन में कभी भी धन-धान्य की कमी का सामना नहीं करना पड़ता है. . आइए जानते हैं कार्तिक पूर्णिमा पर किए जाने वाले व्रत और पूजा से जुड़े उपायों के बारे में विस्तार से।

कार्तिक पूर्णिमा पर चंद्रमा को अर्घ्य दें

कार्तिक पूर्णिमा पर चंद्र देवता की विशेष पूजा का विधान है। ऐसा माना जाता है कि यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में चंद्र दोष हो और उसके कारण उसे तमाम तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हो तो उसे किसी भी माह की पूर्णिमा की संध्या को दूध, गंगाजल और अक्षत मिलाकर अर्घ्य देना चाहिए। चंद्रमा को अर्घ्य देते समय साधक को ॐ श्रीं श्रीं श्रीं सः चंद्रमसे नमः या ॐ सों सोमाय नमः मंत्र का जाप करना चाहिए।

कार्तिक पूर्णिमा पर गंगा स्नान करें

जीवन से जुड़ी किसी भी मनोकामना को जल्द पूरा करने के लिए व्यक्ति को कार्तिक पूर्णिमा के दिन मां गंगा की पूजा से जुड़ा उपाय जरूर करना चाहिए। मान्यता है कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन गंगा स्नान करने से साधक को विशेष पुण्य की प्राप्ति होती है।

दीपदान करने से कष्ट दूर होंगे

कार्तिक पूर्णिमा तिथि पर घर के अंदर और बाहर गंगा नदी के तट पर दीपदान करने का बहुत महत्व है। ऐसा माना जाता है कि यदि कोई व्यक्ति देव दीपावली की शाम शुद्ध घी के दीपक जलाकर देवी-देवताओं का स्वागत और पूजा करता है, तो उस पर भगवान की कृपा बरसती है।

विष्णु की पूजा करने से मनोकामना पूरी होगी

कार्तिक पूर्णिमा पर श्री हरि विष्णु और मां लक्ष्मी जी की कृपा पाने के लिए इस दिन लक्ष्मीनारायण को पीले फूल, हल्दी और केसर आदि अर्पित करते हुए विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए।

कार्तिक पूर्णिमा का महाउपाय

वैवाहिक जीवन को मधुर बनाए रखने के लिए पति-पत्नी को कार्तिक पूर्णिमा की रात एक साथ चंद्र देव के दर्शन और पूजा करनी चाहिए। मान्यता है कि इस दिन दूध में शहद मिलाकर चंद्र देव को अर्घ्य देने से सुखी वैवाहिक जीवन का आशीर्वाद मिलता है।

इसे भी पढ़ें



(यहां दी गई जानकारी धार्मिक मान्यताओं और लोक मान्यताओं पर आधारित है, इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। इसे आम जनहित को ध्यान में रखते हुए यहां प्रस्तुत किया गया है।)

Leave a Reply

error: Content is protected !!