Breaking News

Chanakya Niti these type of people always used by clever people | Chanakya Niti: इस प्रवृति के लोग होते हैं दूसरों के मतलब का शिकार

चाणक्य के अनुसार जीवन में तरक्की के लालच में बुरे लोग स्वभाव से ही कुछ लोगों का इस्तेमाल करते हैं। चाणक्य नीति के श्लोकों के माध्यम से जानिए किस तरह के लोगों से हर हाल में फायदा उठाया जाता है।

चाणक्य नीति: इस स्वभाव के लोग दूसरों की नीचता के शिकार होते हैं

चाणक्य नीति

छवि क्रेडिट स्रोत: फाइल फोटो

आचार्य चाणक्य वे एक ऐसे विद्वान थे जिन्होंने अपने जीवन में एक शिक्षक की भूमिका भी निभाई। आचार्य केवल कूटनीतिज्ञ ही नहीं थे बल्कि उन्हें रणनीतिकार और अर्थशास्त्री भी माना जाता है। उनके द्वारा बताई गई बातें इतनी प्रासंगिक हैं कि लोग उन्हें आज भी अपने जीवन में लागू करते हैं। चाणक्य की नीतियां शुरू से ही समाज का मार्गदर्शन करती रही हैं। चाणक्य के अनुसार लोग कुछ लोगों को जीवन में तरक्की के लालच में इस्तेमाल करते हैं।

इतना ही नहीं चतुर लोग ऐसे लोगों का नुकसान होने पर भी उनका पीछा नहीं छोड़ते। चाणक्य नीति के श्लोकों के माध्यम से जानिए किस तरह के लोगों से हर हाल में फायदा उठाया जाता है।

लोग हमेशा ऐसे ही लोगों को धोखा देते हैं

नात्यंतम सरलैर्भव्यं गत्वा पश्य वनस्थलीम्।

छिद्यन्ते सरलास्त्र कुब्जष्टिष्ठन्ति पादपाः ॥

इस श्लोक में चाणक्य ने कहा है कि व्यक्ति को अत्यधिक भोलापन और सीधापन नहीं दिखाना चाहिए। चाणक्य कहते हैं कि हमेशा सीधे पेड़ पहले काटे जाते हैं और जो टेढ़े होते हैं वे खड़े रहते हैं। सीधे-सादे लोगों का अक्सर फायदा उठाया जाता है और उन्हें इसका एहसास भी जल्दी नहीं होता।

और अधिक विश्वस्त

चाणक्य नीति के अनुसार किसी पर भरोसा करना अच्छी बात है, लेकिन अगर ऐसा जरूरत से ज्यादा किया जाए तो नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। आचार्य कहते हैं कि अंधविश्वास किसी बड़े खतरे से कम नहीं है। बहुत ज्यादा विश्वास करने वालों को अक्सर धोखे का सामना करना पड़ता है। नीति के अनुसार किसी पर भरोसा करें, लेकिन अपने स्वार्थ का भी ख्याल रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!