Chanakya Niti Keep these demerits away from life otherwise life will become hell | Chanakya Niti: इन अवगुणों को खुद से रखें दूर वरना जीवन बन जाएगा नर्क

आचार्य चाणक्य ने नीति शास्त्र में मानव जीवन से जुड़ी कई बातों का जिक्र किया है। इन बातों का पालन कर व्यक्ति अपने जीवन को सफल बना सकता है।

चाणक्य नीति: इन अवगुणों को खुद से करें दूर, नहीं तो जीवन हो जाएगा नरक

इन अवगुणों को जीवन से दूर रखें अन्यथा जीवन नर्क बन जाएगा

TV9 भारतवर्ष

TV9 भारतवर्ष | द्वारा संपादित: अंजलि राघव

संशोधित किया गया: नवम्बर 14, 2022 | 9:31 पूर्वाह्न




आचार्य चाणक्य एक महान अर्थशास्त्री, नैतिकतावादी और राजनयिक थे। उनकी नीतियां आज भी उतनी ही प्रासंगिक हैं जितनी पहले हुआ करती थीं। आज भी लोग अपने जीवन को सफल बनाने के लिए इन्हीं नीतियों का पालन करते हैं। इन नीतियों का पालन करने से व्यक्ति जीवन में आने वाली सभी परेशानियों से आसानी से छुटकारा पा सकता है। बड़ी से बड़ी समस्या को भी आसानी से सुलझा सकते हैं। आचार्य चाणक्य नीति मैंने नौकरी, बिजनेस और रिश्तों से जुड़ी कई बातों का भी जिक्र किया है। व्यक्ति के कुछ ऐसे अवगुण भी बताए गए हैं जिनके कारण जीवन नर्क जैसा हो जाता है। आइए जानते हैं कौन से हैं ये अवगुण।

इसे भी पढ़ें



  1. करुणा का अभाव – आचार्य चाणक्य के अनुसार जिस व्यक्ति में करुणा नहीं है वह जीवन में कभी भी कुछ भी प्राप्त नहीं कर सकता है। अगर आप जीवन में सफलता पाना चाहते हैं तो करुणा का होना बहुत जरूरी है।
  2. सम्मान न दिखाना- आप दूसरों को जितना अधिक सम्मान देंगे, आपको उतना ही अधिक मिलेगा। इसलिए हमेशा सामने वाले को सम्मान दें। इससे कोई बड़ा या छोटा नहीं है। लेकिन बेवजह किसी का अपमान नहीं करना चाहिए। इससे आपको समाज में सम्मान मिलता है।
  3. क्रोध – क्रोध को व्यक्ति का सबसे बड़ा शत्रु माना जाता है। व्यक्ति को हमेशा अपने क्रोध पर नियंत्रण रखना चाहिए। क्रोधी व्यक्ति सोच विचार कर कोई निर्णय नहीं ले पाता है। लोगों पर बेवजह गुस्सा न करें। यह आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है।
  4. दान न करें – दान से कभी न भागें। दान के बिना जीवन व्यर्थ है। हमेशा अपनी आय का एक हिस्सा दान करें। इसलिए जीवन में दान और धर्म के मार्ग पर चलना अत्यंत आवश्यक है। इसलिए दान-पुण्य अवश्य करें।

आज की बड़ी खबर

Leave a Reply

error: Content is protected !!