According to vastu shastra never do these three work can harmful for career and life | Vastu Tips: वास्तु के अनुसार सुबह कभी न करें ये 3 काम, लाइफ में बनी रहती है नेगेटिविटी

Vaastu Tips for Happy Life: दिन की शुरुआत अगर अच्छी न हो तो पूरे दिन दिमाग पर नकारात्मकता हावी रहती है। वास्तु शास्त्र के नियमों के अनुसार सुबह के समय तीन काम करना वर्जित माना गया है।

वास्तु टिप्स: वास्तु के अनुसार सुबह कभी न करें ये 3 काम, जीवन में रहती है नकारात्मकता

जीवन के लिए वास्तु टिप्स

वास्तु शास्त्र के अनुसार जिन घरों में वास्तु दोष वहां हमेशा नकारात्मक ऊर्जा का वास रहता है। वास्तु में दिशाओं का विशेष महत्व होता है। प्रत्येक दिशा में किसी न किसी देवता का आधिपत्य अवश्य होता है। घर के अलग-अलग हिस्सों में वास्तु संबंधी त्रुटि होने पर व्यक्ति को कई तरह की मानसिक और आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जीवन में व्यक्ति के जीवन पर सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह की ऊर्जाओं का प्रभाव पड़ता है।

मानव जीवन में सकारात्मक ऊर्जाओं के प्रभाव से मन प्रसन्न रहता है, वहीं नकारात्मकता तनाव और कई अन्य समस्याएं लाती है। अगर व्यक्ति के दिन की शुरुआत अच्छी होती है तो बाकी दिन भी अच्छे से गुजरते हैं। वहीं अगर दिन की शुरुआत अच्छी न हो तो पूरे दिन दिमाग पर नकारात्मकता हावी रहती है। वास्तु शास्त्र के नियमों के अनुसार सुबह के समय तीन काम करना वर्जित माना गया है।

सुबह आईने में देखना

वास्तु के नियमों के अनुसार किसी भी व्यक्ति को सुबह उठकर अपना चेहरा नहीं देखना चाहिए। जो लोग सुबह उठते ही शीशे में अपना चेहरा देखते हैं उनके जीवन में परेशानियां बढ़ जाती हैं। इसी वजह से बेडरूम में शीशा नहीं लगाना चाहिए क्योंकि सुबह उठते ही शीशे पर ध्यान दिया जाता है। वास्तु में सुबह-सुबह शीशा देखना वर्जित माना गया है।

सुबह छाया देखना

वास्तु के अनुसार सुबह के समय व्यक्ति की परछाई नहीं देखनी चाहिए। वास्तु में सुबह के समय परछाई देखने से व्यक्ति के अंदर नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश हो जाता है। सुबह के समय अपनी परछाई देखना भी वास्तु में वर्जित माना गया है। परछाई देखते ही व्यक्ति का मानसिक तनाव बढ़ जाता है और नकारात्मकता हावी होने लगती है। इसके अलावा घर में सुबह-सुबह किसी भी जंगली जानवर की तस्वीर नहीं देखनी चाहिए। अगर आपके घर की दीवारों पर किसी जंगली जानवर की तस्वीर लगी है तो उसे तुरंत हटा दें।

झूठे बर्तन देखने पर

कई घरों में अक्सर देखा जाता है कि रात में खाने के बर्तन धोए नहीं जाते, लोग उन्हें अगले दिन धोने के लिए रख देते हैं. वास्तु में झूठे बर्तन रखना अशुभ माना जाता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार यदि कोई व्यक्ति सुबह उठकर झूठे बर्तन देखता है तो व्यक्ति पर तुरंत ही नकारात्मक ऊर्जा हावी हो जाती है। सुबह के समय जब नकारात्मक ऊर्जा हावी हो जाती है तो व्यक्ति का पूरा दिन खराब हो जाता है। ऐसी मान्यता है कि रात के समय रसोई में झूठे बर्तन छोड़ने से घर में दरिद्रता आती है। ऐसे में नकारात्मक ऊर्जा को घर में प्रवेश करने से रोकने के लिए झूठे बर्तनों को रात के समय साफ करना चाहिए। सुबह-सुबह झूठे बर्तन देखते ही व्यक्ति के मन पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है जिससे दिनभर के कामों में रुकावटें आने लगती हैं।

Leave a Reply

error: Content is protected !!