सूरज के बाद इन 4 चीजों को नहीं करना चाहिए दान, घर में दिखता है दरिद्रता

सूरज के बाद इन 4 चीजों को नहीं करना चाहिए दान, घर में दिखता है दरिद्रता

डोमेन्स

सूरज के बाद कुछ चीजें दान करना अशुभ होता है।
शास्त्रों में दान करने से जुड़े नियम बताते हैं।
सूर्य के बाद प्याज और लहसुन दान नहीं करना चाहिए।

वास्तु टिप्स: हिंदू धर्म में दान का बहुत महत्व है। शास्त्रों में बताया गया है कि दान धर्म करने से पुण्य की प्राप्ति होती है। भारतीय संस्कृति में प्राचीन समय से ही दान करने की परंपरा चली आ रही है। दान करने से किसी व्यक्ति के इस लोक में तो कल्याण ही होता है और उसे परलोक में भी कष्ट नहीं भोगने पड़ते हैं। सभी को अपने जीवन में दान पुण्य करना अनिवार्य है, लेकिन शास्त्रों में दान धर्म करने के भी कुछ नियम बताए गए हैं। पंडित इंद्रमणि घनस्याल दर्शनीय हैं कि सूर्यास्त के बाद कुछ चीजों का दान शुभ नहीं माना जाता है। ऐसा करने से घर से सुख-समृद्धि हो सकती है। जानिए कौन सी चीजों को सूर्यास्त के बाद नहीं करना चाहिए।

यह भी पढ़ें – इस पेड़ की जड़ को धारण करना, चमकते हुए चमकना, सीखें और कुछ विशेष बातें

दूध-दही
शास्त्रों के अनुसार शाम के समय दही, दूध दान करना अशुभ माना जाता है। दूध व दही सफेद होता है, जो कि चंद्र ग्रह से संबंधित होता है। सूर्य के बाद दूध व दही के दान करने से घर से सुख और वैभव चला जाता है। दूध को मां लक्ष्मी से भी जोड़कर देखा जाता है, इसलिए सूरज के बाद दूध के दान से घर में आर्थिक स्थिति खराब होने लगती है। इससे घर में दरिद्रता दिखने लगती है।

हल्दी
दूध व दही के अलावा शाम के बाद हल्दी का दान नहीं करना चाहिए, गुरुवार के दिन। हल्दी का संबंध गुरु से माना जाता है। हल्दी के दान करने से गुरु कमजोर होता है, जिससे जीवन में परेशानियां आती हैं और घर में बंध रहता है।

यह भी पढ़ें – काला धागा उपाय: लड़कियों को क्यों और किस पैर में बांधना पड़ता है काला धागा?

धन
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, सूर्यास्त के बाद कभी भी किसी व्यक्ति को धन का दान नहीं करना चाहिए, क्योंकि शाम के समय मां लक्ष्मी का आगमन होता है। शाम के समय धन दान करने से मां लक्ष्मी नाराज होकर चली जाती हैं। इसके कारण घर में दरिद्रता देखने लगती है और धन संपत्ति की कमी होने लगती है। इसी तरह सूर्य के बाद प्याज और लहसुन को भी दान नहीं करना चाहिए।

टैग: धर्म आस्था, धर्म संस्कृति, वास्तु, वास्तु टिप्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!