वास्तु शास्त्र के अनुसार घर की इस दिशा में धुंधला ब्रेज़ेन का सूरज, बनी रहने वाली समृद्धि

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर की इस दिशा में धुंधला ब्रेज़ेन का सूरज, बनी रहने वाली समृद्धि

डोमेन्स

वास्तु शास्त्र के अनुसार, ब्रेकफास्ट का दबदबा कभी भी सगे संबंधियों में नहीं लगाना चाहिए।
यदि आपके घर का ब्रॉन्ज का सूरज कहीं टूट-फूट गया है तो उसे तुरंत हटा दें।

तांबे का सूर्य लटकाने के वास्तु टिप्स : हम सभी चाहते हैं कि हमारे घर में सुख-समृद्धि बनी रहे। इसके लिए घर का हर एक व्यक्ति भरसक प्रयास करता है। ऐसे कई लोग वास्तु शास्त्र में बताई गई जानकारियों को फॉलो करते हैं और अपने घर में सकारात्मकता बनाए रखने के लिए लगातार प्रयास करते रहते हैं। ग्रंथ शास्त्र में कई ऐसे सरल उपाय बताए गए हैं, जो किसी व्यक्ति के जीवन में प्राप्त करने को दूर कर खुशियां भर देते हैं। इन उपायों में से एक है घर में ब्रेज़ेन का धातु का किरण निर्धारण। ब्रोन्ज का सूरज घर में लगाने से क्या फायदे हैं और इसे किस दिशा में लगाने की जरूरत है? इस विषय में अधिक जानकारी दे रहे हैं भोपालवासी ज्योतिष एवं ऋक्सिक्ट सलाह पंडित हितेंद्र कुमार शर्मा।

ब्रेज़ेन के सूरज घर में लगाने के लाभ

-वास्तु शास्त्र के अनुसार, यदि कोई व्यक्ति अपने घर में ब्रॉन्ज सूरज लगाता है तो उसके घर में सकारात्मक ऊर्जा, होस्मिली, यश, कीर्ति और समृद्धि की प्राप्ति होती है। ब्रेज़ेन के सूरज को ऊर्जा का उत्कृष्ट स्रोत माना जाता है।

यह भी पढ़ें – सपने में घर दिखाई देने का क्या है संकेत? जानें स्वप्न शास्त्र क्या हैं

-तांबा एक प्रभावशाली धातु है। जिस तरह से घर में ब्रॉन्ज का सूरज लगाने से सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, उसी तरह से घर के सदस्यों के बीच तालमेल भी कायम होता है। ब्राजील के सूरज से मार्टिनी ऊर्जा घर का वातावरण शुद्ध और समृद्ध बनाता है। इससे परिवार कलह और तनाव से छुटकारा मिलता है।

– यदि आप चाहते हैं कि आप सफल हो जाएं और लोकप्रिय हो जाएं, तो आपके घर में ब्रेज़ेन का सूरज निश्चित रूप से चमक उठेगा। इसके अलावा, ब्रेज़ेन के सूरज को आप अपने कार्यस्थल पर बैठने पर भी सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

घर में ब्रॉन्ज का दाग लगाने का नियम

-वास्तु शास्त्र के अनुसार, यदि आपके घर में पूर्व दिशा की ओर कोई खिड़की या दरवाजा नहीं है तो उस दीवार पर आप ब्रेज़ेन का सूरज महसूस कर सकते हैं। ऐसा करने से वह विद्युत का पर्दाफाश होता है, जो सूरज की पूर्व दिशा से मिलनी को चाहिए।

-वास्तु शास्त्र के अनुसार पूजा घर के ईशान किसी भी दीवार पर भी ब्रेन का सूरज का निर्धारण शुभ माना जाता है।

-लिविंग रूम में पूर्व दिशा में ब्रेक का सूरज लटका हुआ माहौल खुशनुमा बना सकता है।

यह भी पढ़ें – सामुद्रिक शास्त्र: गर्दन के आकार से मनुष्य के व्यक्तित्व की पहचान

-वास्तु के अनुसार, आप अपनी भ्रांति पर पूर्व की दीवार पर भी ब्रांश का सूरज लगा सकते हैं। ऐसा करने से आपके व्यापार में वृद्धि होगी आपको अच्छी नौकरी की पेशकश मिलेगी। आपकी कई इच्छाएं भी पूरी होंगी।

क्या ना करें

वास्तु शास्त्र के अनुसार, ब्रेथलाइन का दबदबा कभी भी सपनो में नहीं लगाना चाहिए।

ब्रेज़ेन के सूरज को हमेशा साफ-सुथरा लें अन्यथा इसके नकारात्मक परिणाम भी मिल सकते हैं।

यदि आपके घर का ब्रॉन्ज का सूरज कहीं टूट-फूट गया है तो उसे तुरंत हटा दें।

टैग: ज्योतिष, धर्म आस्था, धर्म, वास्तु, वास्तु टिप्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!